fbpx

गैस और कब्ज से छुटकारा पाने के लिए क्या करना चाहिए? ( Home Remedies for Constipation )

आज कल के भागदोड की life मैं गैस और कब्ज की परेशानी हर किसी की है. कब्ज एक ऐसी परेशानी है. जिसके कारण पेट साफ़ नहीं होता है. और पेट साफ़ न होने के कारण, हमारा पूरा दिन इतना गंदा जाता है की, कुछ भी काम मन लगा के होता नहीं है. आपको पूरा दिन ऐसे लगा की, कब हलका होके आऊ. but, आपका पेट साफ़ नहीं होता. आप ठीक तरह से कुछ खा भी नही सकते है. गैस की भी यही problem आती है. अगर आप कई ऑफिस मैं कम कर रहे होंगे. तो कम करने मैं बढ़ी दिक्कत आ सकती है. इसिलये, सुबह सुबह पेट साफ़ होना बहुत important कहा जाता है. और कब्ज के साथ एसिडिटी, पेट मै जलन असी बहुत सारे problem हो जाते है. अगर आप इस problem को ignore करेंगे. तो, ये problem बाद में piles ( बवासीर ) मैं बदल जाती है. so, आप अगर गैस और कब्ज के problem से जुज रहे है. तो, आप सही content पढ़ रहे है. क्या करना चाहिए आपकी समस्या क्या जरुर समाधान करेगा.

कब्ज क्या है? ( what is Constipation in hindi?)

कब्ज क्या है? ( what is Constipation in hindi?)

हम की क्या खाते है और कब खाते है. पेट ख़राब होना इसपर बहुत निर्भर करता है. वात, पित्त, कफ इन तीनो चीजो का संतुलन ख़राब हुआ तो, आपको पेट न साफ़ होने की समस्या आ सकती है. खाना सही time पे नहीं लिया. तो आपको कब्ज की problem आ सकती है. पॉटी एकदम thick हो जाती है. और पॉटी आने मैं बहुत दिक्कत होती है.

कब्ज और गैस होने के कारण  ( Constipation and Gas causes in Hindi )

  1. खाने मैं फाइबर की कमी होना. मतलब, कच्चे फलो ( गाजर, मुली, बिट, काकाडी ) का शामिल नहीं होना.
  2. सही time पर खाना नहीं खाना. मतलब खाना खाने का कोई time नहीं.
  3. बार बार junk food का सेवन करना.
  4. पानी की कमतरता. बॉडी को जितनी जरुरत है, उतना भी पानी न पिना.
  5. हमेशा टेंशन मैं रहना. और सोच सोच कर depress होना. चिंता करते रहना.
  6. देर रात तक जागते रहना.
  7. एक time पे बहुत खा लेना. और ओह खाना पचने से पहले ही और खा लेना.

कब्ज और गैस होने के लक्षण ( Constipation and gas symptoms in  Hindi )

  1. सबसे पहले पॉटी आने जैसे लगता है. but, आती नहीं है.
  2. बहुत जोर लगाने के बाद ही पॉटी आती है.
  3. पेट मैं गैस होना.
  4. पेट भरा भरा लगना. और दर्द होना.
  5. पॉटी बहुत कड़क होना.
  6. weakness जैसे फील होना.
  7. सिर दुखना.
  8. पेट मैं एसिडिटी और जलन होना.

मैं भी पहले आलसी हुआ करता था. कुछ भी बाहर का खाना. खाने का कोई टाईमटेबल नहीं था. पहले कभी कुछ नहीं लगा. but, धीरे एसिडिटी होने लगी. छाती मैं ऐसे खट्टा लगना. ऐसे अजीब अजीब फील होना चालू हुआ. फिर भी मैंने ध्यान दिया नहीं. but, एक दिन ऐसा आया की, पॉटी भी ठिकसे नहीं हो रही. पेट भारी भारी लग रहा था. गैस बन रहे थे. बहुत जोर लगाने के बाद पॉटी आती थी. फिर भी पेट साफ़ नहीं होता था. इतना सब होने के बाद लगने लगा की कुछ तोह बीमारी बीमारी हुए है. पहले गूगल पे सर्च करने के बाद पता चला की इसे कब्ज कहते है. और इसके सारे लक्षण मेरे से मिलते जुलते थे. तब मैंने decide किया की, अब तब जो भी गलती की है. ओ सब सुधारनी है. और खुद के साथ शरीर का भी उतना ही ध्यान रखना है. बाद में जा के ये भी पता चला की, बवासीर जैसी बीमारी भी हो सकती है. इसलिए इसपर कम करना अनिवार्य है. और मैंने मेरी जीवन शैली change की. और मैंने एक simple daily schedule रखा.

पेट साफ़ रखने के लिए क्या किया मैंने मेरे दिनचर्या ?

पेट साफ़ रखने के लिए क्या किया मैंने मेरे दिनचर्या ?
  1. त्रिफला चूर्ण का सेवन किया. पहले काफी problem हो रही थी. so सुबह खाली पेट एक ५ बजे के आस पास लेन चालू किया था. उसके बाद ३ बार पॉटी आती है. पहले ठीक ठाक. उसके बाद पानी जैसे पॉटी आती है. तो समज लेना की पेट साफ़ हो गया.
  2. त्रिफला का सेवन लगातर ३ month कीजिये. किसी भी आयुर्वेदिक शॉप मैं मिल जायेगा. फिर १ महिना gap ले लिजिये. उसके बाद फिर वापस १ महिना continue कीजये. then बंद कीजिये. और खान पान कर खास ध्यान दीजिये.
  3. बॉडी को पानी की कमतरता मत दीजिये. हमेशा hydreted रहिये.
  4. खाने मैं फाइबर के content ज्यादा रखिये. जैसे की गाजर, मूली, बिट, काकडी etc. कच्चे फलो का सेवन ज्यादा करे.
  5. दिन मैं एक बार कोनसे भी फल का जूस पि लीजिये. water rich फलो का सेवन कीजिये.
  6. जितनी भूक है उतना ही खाना खायेए.
  7. लंच के बाद अज्वैन का सेवन कीजिये. एसिडिटी बिलकुल भी नही होगी.
  8. अगर बाहर का कुछ junk food खा रहे हो. तो लिमिट मैं खाइए.
  9. सुबज जल्दी उठने के बाद गुनगुने पानी मैं निम्बू डालकर पि लिजिए. पेट हलका हो जायेगा.

ये जीवन शैली अपना लीजिये. मैं 100 % sure हूँ की, अपको गैस और कब्ज की problem कभी नहीं होगी.

गैस, एसिडिटी और कब्ज पर रामबाण घरेलु उपचार ( Home Remedies for Constipation, Gas and Acidity )

गैस, एसिडिटी और कब्ज पर रामबाण घरेलु उपचार ( Home Remedies for Constipation, Gas and Acidity )
  1. गुनगुने पानी मैं निम्बू और शहद डालकर पिने से कब्ज के problem से छुटकारा पा सकते है.
  2. त्रिफला चूर्ण से कब्ज का घरेलु इलाज होता है. सुबह और रात को पानी मैं मिलकर पिने से मिलती है राहत.
  3. निम्बू शरबात पिने से भी कब्ज का इलाज होता है.
  4. तुरंत पेट साफ़ करने के जीरा और अज्वैन को पानी मैं उबालकर पिने से जल्दी पेट हलका होता है.
  5. पेट साफ़ करने के लिए गाजर, काकडी ये फल खा सकते है.
  6. पॉटी न आये तो कोई भी water rich फल खाइए. और आप छाज का भी सेवन कर सकते है.
  7. dinner मैं आप पपीता का सेवन कर सकते है.
  8. दूध मैं इलायची डालकर पिने से गैस की problem से राहत मिलती है.
  9. कॉफ़ी पिने के बाद आपको पॉटी जल्दी आ सकती है. कारण उस मैं कुछ ऐसे quality होते है. जिसे आपको पॉटी जल्दी आती है.
  10. कब्जी की दवा है अलसी. आप इसे पीसकर पानी मैं रात को ले सकते है.
  11. आलूबुखारा से कब्ज से छुटकारा मिलता है. क्यूंकि आलूबुखारा लैक्सीटीव होने के कारण कब्ज की problem दूर होती है.
  12. अरंडी के तेल अक एक चमच दूध मैं रात को सोने से पहले ले सकते है.

पेट साफ़ होने के फायदे:

पेट साफ़ होने के फायदे:
  1. इमुनिटी पॉवर बढती है.
  2. अगर पेट साफ़ हो तो कम मैं मन लगता है.
  3. पाचन शक्ति अच्छी हो जाती है. जो खाते है उसके पोषक तत्व मिलते है. और energy मिलती है.
  4. कोई भी बीमारी पहले पेट से चालू होती है. so, पेट साफ होने के कारण आपको कोई समस्या नहीं आयेगी.
  5. और आप कुछ भी खा सकते है. आपको पेट मैं भारीपन नहीं फील होगा.

कब्ज से छुटकारा पाने के लिए निचे दिए गए योगा भी कर सकते है :

  1. बालासन
  2. मयुरासन
  3. हलासन
  4. पवन मुक्तासन
  5. सुप्तमत्स्येन्द्रासन

दोस्तों जितना मैंने searching की है. और मैंने खुद भी कुछ घरेलु नुस्को का उपयोग किया है. सिर्फ मुझे ही नहीं मेरे दोस्तों को भी गैस और कब्ज से छुटकारा मिला है. अगर आप भी इस परेशानी से गुजर रहे है. तो क्या करना चाहिए का ये आर्टिकल आपके लिए है.

Leave a Comment