Browse Category

Uncategorized

सुबह जल्दी उठाने के लिए क्या करना चाहिए ?

सुबह जल्दी उठने के लिए क्या करना चाहिए.
सुबह की important !

कुछ बताने से पहले मैं ये बोलना चाहता हूँ. मैंने और भी blog पढ़े सुबह जल्दी उठने के विषय मैं है. but, मुझे कुछ खास answer नहीं मिला है. infact कुछ भी लोग लिख रहे है. ये भी सोच नहीं रहे है. जो लिखा है उससे लोगो की problem ख़त्म होगी की नहीं. but dont worry guys. “kya karna chahiye.com” की टीम का answer आपको जरुर समाधान करेगा.

मुझे पता है. आपको title पढ़कर ही समज आ गया है. क्या topic है. देखिये सुबह जल्दी उठना. ये जो topic है, ये बहुत ही ज्यादा important है. हमारी successful life मैं इसका महत्वपूर्ण role है. मेरे साथ आप nature को भी समजना सिख जाओगे. सुबह-रात क्यूँ बनाया है. इसको भी समज के लेना जरुरी है. सुबह तो हमारी एक शुरुवात है. उसके बिना हम लोग आगे बढ़ ही नहीं सकते. एक बात समज लीजिये. जो भी काम करने से पहले उस काम की value जानलो. नहीं तो, उसके क्या important है. उससे क्या फरक पढ़ सकता हमारी लाइफ मैं ये जानलो. 

मैं तो आपको बताता रहूँगा. but आप भी knowledge लेते रहिये. knowledge लेना बुरी आदत नहीं है. सुबह जल्दी उठने के बहुत सारे उपाय है. but मैं आपको ठिकसे एक pattern बनाके देता हूँ. उसे आप फॉलो कीजिये. मैं भी देख लेता कैसे आप जल्दी नही उठते सुबह अब.

पहले तो इस बात को समज लीजिये. सुबह जल्दी उठने की तयारी १ दिन पहले से ही होती है. हमें nature के again बिलकुल भी नहीं जाना है. और एक बात हमारा ये personal improvement का blog उन लोगो के लिए है. जो सच मैं कुछ करना चाहते है. कैसे हमारा जीवन बदल सकता है. चलो नीचे दिए गए सारे point फॉलो कीजिये. और कुछ प्रॉब्लम हुआ तो कमेंट कर देना. 

दिनचर्या (Daily schedule)

daily schedule आखिर क्यूँ होना चाहिए?

१) आप अपने दिन का एक routine / timetable बनाना चालू करो. Inshort, दिन के २४ घंटे का timetable बनाओ. कब और क्या करना है? ये सब decide करके रखो. (मैं आपको example दे दूंगा. dont worry )

अभी भी मैं बता रहा हूँ. सुबह जल्दी उठने का routine, timetable बनाना है. बोलने मैं आसन चीज है. लेकिन इसपे अमल रहने उतना ही मुश्किल है. so guys, हिम्मत नहीं छोडनी है. मैं जैसा बोल रहा उसे फॉलो करो.  

नींद ( daily sleep )

अच्छी नींद लेनी चाहिए. कैसे हम ऐसी चीजे को ignore करते है.

Age की हिसाब से आपने स्वस्थ के लिए मैं आपको बता देता की कितनी नींद अच्छी है.

२) हमारी human body को normally कम से कम ६-७ घंटे की नींद जरुरी है. आप आपकी नींद ७ घंटे को fix कीजिये. इसके उपर मत सोना. because, ज्यादा नींद मतलब ज्यादा आराम then ज्यादा time waste. हमें कुछ करना है. so हमें बाकि लोगो से ज्यादा टाइम मिलना चाहिए. so guys हिम्मत नहीं हारनी है.

हम आपको side by side एक schedule बनाके दे रहे है. so ये content आपके जीवन मैं नई क्रांती ला सकता है. चलो आगे बढ़ते है.

३) अभी सबसे important point है. आप अपने सोने का time decide करो. मतलब, अभी अपने ७ घंटे की नींद fix की है. तो धीरे धीरे जल्दी उठाना सीखो. मतलब, अभी आप ११ बजे सो जाएये. और ६ बजे उठना चालू करो. आपकी ७ घंटे की नींद भी पूरी हो जाएगी और ६ बजे उठना भी चालू हो जायेगा. धीरे धीरे आगे बढ़ते है.

६ – १८  साल = ७ – ८ घंटे की नींद ( minimum ७ घंटे )

१८+ साल   =  ६ – ७ घंटे की नींद ( minimum ६ घंटे ) 

 आप ४ बजे नहीं उठ पाओगे और जल्दी नींद भी नहीं आयेगी. so मेरे sequence को फॉलो करो, I promise you मैं आपको जल्दी उठने की आदत लगा दूंगा. 

खाना खाने का टाइम ( food time)

खाना खाने का सही time ? ये भी बहुत मत्तेर करता हमारे daily routine जे लिए.

४) अब आते खाने की उपर, दोस्तों अगर सुबह उठने है. तो खाने का भी schedule बनाना पड़ेगा. हमारी body रात को antibodies का काम करती है. दिन मैं जो भी energy consumption हुई उसका ठिकसे recovery करती है. उसमें हम ने अगर रात को बहुत खाया. ओ भी ९ बजे के बाद तो हमारी उस दिन की body की recovery नहीं होगी. सारा काम body का खाना पचाने ही जायेगा. then weight बढ़ना ये चीजे चालू होती है. so मेरी बात ठिकसे मानलो. और श्याम को ७ बजे से पहले खाना चालू करो. सुबह healthy नाश्ता ९ बजे और लंच १ बजे से पहले करो. अगर बिच मैं भूक लगती है. तो fruit खाओ, juice पियो. और थोड़ी दिन बाहर का junk food खाना रोको. sunday को बाहर का खाना खाओ. और एक बात. हमारे schedule के हिसाब से श्याम को ७ बजे के बाद कुछ नहीं खाना है . 

 बहुत ही ज्यादा कठिन चीजे नहीं करने को बोल रहा. Just फॉलो की जिए सारे instructions.

सुबह की शुरुवात ( morning work )

daily routine की शुरुवात कैसे हो ?

५) अभी आपको ये decide करना है. सुबह ६ बजे उठते ही अपने Diary मैं “todays work” लिखना है. उसमें सब चीजे लिखनी है. जो की आपको आज करनी है. inshort time भी लिखना है कोन से time पे कोनसा काम करना है. ऑफिस का टाइम schedule then, आपका  side hustle सब चीजे. then रात को आप १०.३० बजे फ्री होने चाहिए. आप ११ बजे सोने से पहले बेड पे १०.३० बजे जाइये. और कल के बारे मैं सोचो. की आज से अच्छा दिन कल कैसे बना सकता हूँ. ये भी सोचो की कल अगर जल्दी नहीं उठा. तो पूरा schedule ख़राब होगा. so जो decide किया है. ओ पूरा नहीं होगा. यही उत्साह के साथ कल उठना है. schedule decide करना है. उसके हिसाब से काम करना है. अगर नहीं उठे तो सब गड़बड़ हो जाएगी.

 बस कुछ थोड़े instructions बचे है. 

६) सुबह जल्दी उठने के बाद आपके daily schedule मैं exercise, yoga, pranayam ये सारी चीजे compulsary होनी चाहिए. एक healthy लाइफस्टाइल के लिए ये जरुरी है. हाँ सबसे important बात. आपको सुबह exercise के बाद ठंडे पाने से ही नहाना है. चाहे कोनसा भी मौसम हो. शुरुवात मैं सर्दी आयेगी. but बाद मैं कभी सर्दी जुखाम नहीं आयेगी. और  immunity boost हो जाएगी. इससे पुरे दिन काम करने के लिए अच्छी energy रहती है .

सोने से पहले ( before sleep )

७) आपके daily schedule के target ख़त्म हुए या नहीं. ये रात के सोते टाइम मतलब १०.३० बजे चेक कीजिये. जो नहीं हुआ उसको reschedule कीजिये. और हमारे आज के टास्क खत्म हुए तो आपको एक प्रकार का समाधान मिलेगा. मेरा आज का काम खत्म हुआ. अब कल मैं इससे और अच्छा काम करूँगा. देखिये कैसे आपको एक अच्छी नींद आती है. ऐसी नींद आपको इससे पहले कभी नहीं आई होगी इतना sure हूँ मैं. अपने काम का हमें समाधान नहीं मिला. ये भी वजह रहती है. अच्छी नींद न आने की.  but आप अगर समाधान है. आज के दिन मैं जो भी काम किया है. उसके लिये तो आपको अच्छी नींद आणि ही आणि है.

मेरे एक दोस्त का example

 8) हमेशा excited रहो सोते time. सुबह उठके मुझे मेरा schedule फॉलो करना है. मुझे मेरे टास्क ख़त्म करने है. और हाँ अपने सुना होगा बचपन मैं हमें कोई बोलता था. सुबह हमें घुमने जाना है. तो हम बिना अलार्म के सुबह जल्दी उठ के तयार होते थे. ये आपका excitement था. आपको और एक example देता हूँ, ,,मेरा एक दोस्त है. उसकी life मैं ज्यादा कुछ नहीं मतलब कॉलेज, movie देखना. ८-९ घंटें की नींद लेना. और सबसे पसंदी का उसका क्रिकेट खेलना. ओ कभी सुबह जल्दी उठता नहीं. but उसको कोई बोले कल ६ बजे मैदान मैं जाना है. ६.३० को मैच है. तो भाई सबसे आगे और ready for cricket. मतलब थोडा सोचके देखो. इसमें उसका एक मन पसंदिका का टास्क है. और ओ हसते हसते सुबह जल्दी उठकर खेलने जाता  है.

 तो दोस्तों आप अपने daily time schedule मैं आपके पसंदिका टास्क add कर लीजिये. मतलब उसके excitement मैं आप जल्दी उठ जाओगे. मैं १००% sure हूँ. की ये चीज आपको जल्दी पक्का उठाएगा.

आयुर्वेदिक उपाय

 सुबह जल्दी उठने के लिए त्रिफला चूर्ण काफी मदत करेगा.

9) ये सब करने से भी आपको उठने मैं मुश्किल हो रही है. तो सबसे बेस्ट तरीका थोडा त्रिफला चूर्ण लेना. गुनगुने पानी मैं डालना. और सोने से 1 घंटे पहले कम से कम आधा लीटर पानी मैं डालकर पीजिए. आपकी body recover होने मैं मदत भी करेगा. त्रिफला चूर्ण और सुबह आपको सुसु भी जल्दी आयेगी. और आप जल्दी उठ जाओगे. but उठने के बाद लगेच अपना daily schedule बनाना है. उसके बाद अपने आज के टास्क को complete करने का काम चालू करना है.   

कैसे शुरुवात करना है ?

१०) देखो, दोस्तों अभी आपको क्या करना है. निचे आपको एक टेबल बना के देता. धीरे धीरे आपको उसे implement करना है. 

 सुबह जल्दी उठना कैसे चालू करे.

मेरी बात ठिकसे सुनिए. आपकी body कोई मशीन नहीं की लगेच commend दी. तो, उठना  चालू करेगी. उसके लिए उसको आदत लगानी पड़ेगी आपके subconscious mind को बताना पड़ेगा. क्यूँ मुझे सुबह ४ बजे उठना है. आखिर क्या करना है. सुबह जल्दी उठके. उपर टेबल दिया है. उसके हिसाब से करो.

थोड़ी देर मोटीवेट नहीं रहना है. दोस्तों , कुछ तो goal statement बनाओ की उससे आपको excitement और dedication जगा रहे . जब आप ४ बजे उठना चालू करोगे. तब देखो कैसे लगता है, competition दूर दूर तक नजर नहीं आयेगा. सुबह उठना किसी के की बस की बात नहीं. लेकिन अपने ये कर लिया तो आपके जैसा और कोई नही.

अगर आप भूल गए हो. तो मैं और एक बार बताना चाहता हूँ. “क्या करना चाहिए.com ” ये blog सीरीज आपके personal improvement के लिए लाइ है. जो मेरा दोस्त सच मैं कुछ करना चाहता है. उसके लिए है.  जिसने implement किया उसको जल्दी उठना आ गया. तो इसे जरुर शेयर करदो. जो सच मैं कुछ करना चाहता है उसको भेजो. आपको इस blog का youtube चैनल मैं content चाहिए. तो ओ भी comment करके बता दीजिये. हम जरुर आपके मदत के लिए आ जायेंगे.

धन्यवाद !

  • 1
  • 2